हम हैं आज़ाद न्यूज़ के लिए आवश्यकता है पूरे भारत के सभी जिलो से अनुभवी ब्यूरो चीफ, पत्रकार, कैमरामैन, विज्ञापन प्रतिनिधि की। आप संपर्क करे मो० न० 8077253956,9759538213

Hum Hain Aazad

No.1 News Portal Of India

केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत और सचिन पायलट की हुई डबोक हवाई अड्डे पर मुलाकात, प्रदेश प्रभारी अजय माकन भी रहे साथ

राजस्थान में पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट और केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत मंगलवार शाम उदयपुर के डबोक हवाई अड्‌डे पर आमने-सामने हुए तो गले मिलकर गर्मजोशी के साथ मुलाकात की। दोनों नेताओं ने एक-दूसरे के स्वास्थ्य की जानकारी ली और हंसी ठिठोली भी की। सचिन और शेखावत की गले मिलते हुए फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। फोटो में राजस्थान कांग्रेस के प्रभारी अजय माकन भी नजर आ रहे हैं, जो दोनों नेताओं के मेल मिलाप पीछे खड़े देख रहे थे।

एयरपोर्ट के वेटिंग रूम में सचिन पायलट, अजय माकन और केंद्रीय मंत्री शेखावत साथ बैठे, लेकिन तीनों अपने मोबइल में व्यस्त दिखे।

शेखावत पर ही लगे थे कांग्रेस सरकार गिराने की साजिश के आरोप

पिछले साल राजस्थान की कांग्रेस सरकार दो खेमों में बैठ गई थी। कांग्रेस विधायकों का एक गुट अपनी ही सरकार से नाराज हो मानेसर चला गया था। दूसरा गुट राजस्थान में ही बड़ेबंदी में रह रहा था। इस दौरान मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने केंद्रीय जल शक्ति मंत्री की गजेंद्र सिंह शेखावत पर राजस्थान की कांग्रेस सरकार गिराने का आरोप लगाया था। गहलोत ने कहा था कि शेखावत कुछ कांग्रेसी नेताओं से मिल साजिश रच रहे हैं, जिससे राजस्थान की सरकार अल्पमत में आए और गिर जाए।

इस पूरे मामले के बाद राजस्थान सरकार द्वारा केंद्रीय जल शक्ति मंत्री के खिलाफ पुलिस में शिकायत भी दर्ज कराई गई थी। जिसकी जांच जारी है। वहीं अब सचिन पायलट और गजेंद्र सिंह शेखावत की गले मिलती तस्वीर सामने आने के बाद। इस पूरे मामले पर फिर से सियासत हो गई है।

डबोक हवाई अड्‌डे पर ही पिछले महीने साथ दिखे थे सचिन और गहलोत

पिछले महीने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट मातृकुंडिया में कांग्रेस की जनसभा को संबोधित करने पहुंचे थे। इसके बाद दोनों ही नेता उदयपुर के डबोक हवाई अड्डे पर पहुंचे थे। जहां कार्यकर्ताओं से रूबरू होते हुए मुख्यमंत्री गहलोत ने फेस मास्क नहीं लगा रखा था।

गहलोत बिना मास्क लगाए समर्थकों से मुलाकात करने जाने लगे तो पायलट ने उन्हें रोक लिया। पायलट ने गहलोत से फेस मास्क लगाकर ही मुलाकात करने के लिए कहा। सिर्फ इतना ही नहीं, पायलट ने अपने सहायक से गहलोत के लिए नया मास्क मंगवाया। तब भी सचिन पायलट और मुख्यमंत्री गहलोत की तस्वीर प्रदेशभर में चर्चा का विषय बन गई थी।

%d bloggers like this: